उत्तराखंड के बास्ती गाँव में फ़ूड पॉइजन से पूर्व विधायक सहित सैकड़ो लोग अचनाक बीमार और अस्पाल में भर्ती

0
130

उत्तराखंड में फ़ूड पॉइजन से बास्ती गाँव में पूर्व विधायक सहित सैकड़ो लोग अचनाक बीमार और अस्पाल में भर्ती

उत्तराखंड बागेश्वर : बागेश्वर ज़िले और पिथौरागढ़ ज़िले सीमांत गाँव बास्ती सन्गाड़ गांव में फ़ूड पॉइजन से सैकड़ो लोग अचनाक बीमार हो गए.इन बीमार लोगों में कपकोट क्षेत्र के पूर्व विधायक ललित फर्सवाण भी शामिल हैं.

जहा लोगो को नजदीक बेरीनाग ,कांडा ,बागेश्वर के अस्पतालों में भर्ती कराया गया हैं पूर्व विधायक को बागेश्वर जिला चिकित्सालय में भर्ती किया गया है। जबकि कुछ ग्रामीणों का सनगाड़ में इलाज चल रहा है. और कुछ लोगो का गड़ेरा कपकोट में


मिडिया रिपोर्ट के मुताबिक गुरूवार को कपकोट के गडेरा गांव से हरीश सिंह के पुत्र की बारात बास्ती गांव में गई थी.जहा बारात में बारातियो ने भोजन किया और बारात बापस गडेरा गाव् पहुची .बाराती जैसे ही वापस घर गडेरा आए तो उनकी तबियत बिगड़ गई. वहीं बास्ती में भी कुछ परिवारों को गैस,सिरदर्द , उल्टी व दस्त की समस्या होने लगी.इधर कपकोट के पूर्व विधायक ललित फर्सवाण बारात में खाना खाकर बागेश्वर आ गए. रात्रि में उन्हें भी उल्टी दस्त की शिकायत होने लगी. जिस पर उनको जिला चिकित्सालय भर्ती कराया.

सुविधा के अभाव में घरो में तडपते रहे ग्रामीण 

बास्ती गाँव में बेहोश पड़े ग्रामीण

बास्ती गाँव में बेहोश पड़े ग्रामीण
बास्ती गाँव में बेहोश पड़े ग्रामीण

बास्ती गाँव जिला मुख्यालय से करीब 50 किमी. दूर होने से ग्रामीणों को कई धंटो तक इलाज़ और अस्पताल की सुविधा न होने के कारण तड़पना पड़ा,जबकि गड़ेरा गाँव रोड और अस्पताल के नजदीक होने से मरीजों को तुरंत इलाज मिल गया .

 बड़ी मुश्किल से ग्रामीणों द्वारा स्कूल की गाड़ियों  और एम्बुलैंस से मरीजो को अस्पताल पहुचाया गया ,कई धंटो बाद में गाँव में ज़िला अस्पताल से मेडिकल टीम और पुलिस प्रशासन पंहुचा और लोगो का प्राथमिक उपचार गाँव में  शुरू हुआ उसके बाद उनको नजदीक के अस्पातलो  में भर्ती कराया गया जहा उनका इलाज शुुरु हो सका .

कुछ बच्चों सहित लोगो की हालात बेहद गंभीर बताई जा रही हैं कुछ लोगो  की हालत खतरे से बाहर हैं .

 

अस्पतालों में मरीजों के लिए बेड नहीं ..

इतनी बड़ी संख्या में चिकित्सालयों में पहुंचे मरीजों के लिए अस्पतालों में बेड तक नहीं है. मजबूरन सर्दी के बीच मरीजों को फर्श पर लिटाया गया है. मरीजों को देने के लिए दवाइयों को चिकित्सालयों में भी टोटा ही दिख रहा है. कुछ लोग इलाज के लिए निजी चिकित्सालय में अपने इलाज के लिए भर्ती हो गए है.

भोजन के नमूने जाँच के लिए  रुद्रपुर लैब को भेजा जाएगा

जिला अभिहित अधिकारी की टीम गांवों को रवाना हो गई है. वह बरात में बने भोजन की जांच करेंगे। नमूने रुद्रपुर लैब को भेजा जाएगा. रिपोर्ट आने के बाद भोजन में फूड प्वाइजनिंग कैसे हुआ उसकी जानकारी  मिल सकेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here